चंद पैसों के लिए इस हद तक गुजर गई थीं उर्फी जावेद, अब होता है पछतावा-वजह जानके आपभी दंग रह जायेगे।

बेहद कम समय में अपने फैशन सेन्स से उर्फी जावेद ने फैशन इंडस्ट्री में जगह बना ली है. खास बात है कि उर्फी की ड्रेसेज कोई और नहीं बल्कि खुद उर्फी ही डिजाइन करती हैं और उन्हें सिलती भी हैं. उर्फी जितना ड्रेसिंग सेन्स की वजह से लाइमलाइट में रहती हैं उतना ही अपनी निजी जिंदगी को लेकर भी. हाल ही में उर्फी ने एक इंटरव्यू में बताया कि 2500 रुपये कमाने के लिए उन्हें किस हद तक जाना पड़ गया था.

सिर्फ 6 महीने गईं कॉलेज

MissMalini को दिए इंटरव्यू में उर्फी जावेद ने निजी जिंदगी को लेकर कई खुलासे किए. उर्फी जावेद ने बताया कि 12वीं क्लास तक पढ़ी हैं और स्कूल के बाद सिर्फ 6 महीने के लिए कॉलेज गईं. इसमें भी वो कॉलेज बंक मारकर ऑडिशन के लिए कई बार जाती रहीं.

2500 रुपये थी पहली कमाई

इंटरव्यू में उर्फी जावेद ने कहा कि पैसों की इतनी ज्यादा तंगी थी कि वो किसी भी तरह का छोटा सा रोल करने के लिए भी तैयार हो गई थीं. अपनी पहली कमाई के बारे में बात करते हुए उर्फी जावेद ने कहा- ‘मैं ऑडीशन देने गई थी लीड रोल के लिए लेकिन मेकर्स ने मुझे एक दिन का रोल ऑफर किया. मेकर्स ने उनसे कहा था कि सीन में एक लड़का होगा. उस पर आपको चढ़ जाना है. सुनने में ये थोड़ा हैरान करने वाला है लेकिन पैसों की इतनी ज्यादा जरूरत थी कि मैंने वो ऑफर लिया और काम किया. मुझे कई बार पछतावा होता है कि मैंने पैसों के लिए कितने छोटे-छोटे रोल में काम किया है.’

साड़ी पहन लिखा ऐसा कैप्शन

इससे पहले उर्फी जावेद ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया था. इस वीडियो में उर्फी साड़ी पहने नजर आईं. उर्फी ने जो वीडियो शेयर किया था उसके बैकग्राउंड में एक गाना बज रहा था. इस गाने के बोल हैं- ‘चोली के पीछे क्या है.’ हालांकि उर्फी के इस वीडियो में गाने की बीच की लाइन सुनाई दे रही थी .वो लाइन है- ‘बेगम बगैर बादशाह किस काम का.’ वहीं उर्फी ने इस वीडियो को शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा था- ‘बादशाह बगैर बेगम बड़े काम की.’

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है. BollyTic अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!